ब्रिटेन की संसद में की गर्इ ये भविष्यवाणी आज सच हो गर्इ



हमारे देशवासियों ने भारत की आजादी के लिए कर्इ कुर्बानियां दीं। कुछ नाम मशहूर हुए तो कर्इ इस आजादी की नींव के पत्थर बनकर गुमनाम हो गए। उन्होंने जो तकलीफें सहन कीं उनका हम अंदाजा भी नहीं लगा सकते। गुलाम मुल्क में रहना आैर गुलाम की जिंदगी जीना सबसे बड़ा दुर्भाग्य होता है, इसे सिर्फ वही लोग समझ सकते हैं जिन्होंने वह दौर देखा है।

आज मैं जिक्र कर रहा हूं 1947 में ब्रिटिश पार्लियामेंट में हुर्इ एक घटना का। इंग्लैंड के प्रधानमंत्री क्लीमेंट एटली ने 1947 में इंडियन इंडिपेंडेंस बिल पेश किया।

बिल पर खासी बहस हो रही थी। लोगों की अलग-अलग राय थी। तब विंस्टन चर्चिल ने कहा, अगर भारत को आजादी मिल जाएगी तो बदमाशों और मुफ्तखोरों के हाथ में शासन चला जाएगा।

वे नेता शासन की बहुत कम योग्यता वाले आैर तिनके की तरह बिखरे रहने वाले होंगे। उनकी जबान बहुत मीठी होगी (सुनहरे वादे करेंगे) लेकिन दिल में खोट होगा। किसी भी तरह से शासन पाने के लिए वे आपस में लड़ते-भिड़ते रहेंगे।

इस प्रकार भारत राजनीतिक गुटबंदी में खो जाएगा। आजाद भारत में पानी की बोतल हो या रोटी का टुकड़ा, कुछ भी टैक्स से नहीं बचेगा। बस हवा मुफ्त में मिलेगी और इन लाखों भूखे लोगों का कत्ल एटली के सिर होगा।

आज जब चर्चिल की यह बात पढ़ता हूं तो उनकी यह भविष्यवाणी बिल्कुल सच लगती है।

- राजीव शर्मा, कोलसिया -

Like My Facebook Page

Comments

Popular posts from this blog

मारवाड़ी में पढ़िए पैगम्बर मुहम्मद साहब की जीवनी

आखिरी हज में पैगम्बर मुहम्मद साहब (सल्ल.) ने पूरी दुनिया के नाम दिया था यह पैगाम

क्या कुरआन में आतंकवाद फैलाने की शिक्षा दी गई है? मुझसे जानिए इस किताब की हकीकत