मुझे चाहिए नए साल का यह तोहफा, दे सकते हैं तो दे दीजिए


भाइयों-बहनों,

मैंने नए साल पर फेसबुक के जरिए आपसे एक चीज मांगी थी। (देखिए, इससे पिछली पोस्ट) मैं आपका दिल से शुक्रगुजार हूं कि आपने मेरी बात सुनी और बहुत गौर से सुनी।

मैं आपसे दौलत नहीं मांगूंगा मगर यह जानता हूं कि मांगता तो आप मना नहीं करते। मैं नेता नहीं हूं, इसलिए मुझे आपसे वोट भी नहीं चाहिए। मैं यह भी जानता हूं कि अगर आपसे कोई चीज मांगूंगा तो मिलने में ज्यादा देर नहीं होगी। बड़ी मेहरबानी, मगर इस वक्त मुझे ऐसी कोई चीज नहीं चाहिए।

नए साल में मैं आपसे इन चीजों का तोहफा मांगता हूं। अगर दे सकते हैं तो दे दीजिए।

1- इस साल सफाई पर खास ध्यान दें। कचरा न फैलाएं और इधर-उधर न थूकें। इससे कई बीमारियां पैदा होती हैं। अगर कोई दूसरा ऐसा करता है तो उसे मना करें। हर धर्म में सफाई को बहुत महत्व दिया गया है।

2- भूल जाइए उन लोगों को जो हमें धर्म और मजहब के नाम पर भड़काते हैं। ये लोग इसलिए ताकतवर हैं क्योंकि हम लोग कमजोर हैं। हमारी कमजोरी इनकी शक्ति है। ऐसे लोगों को महत्व देना बंद करें। ये लोग मुल्क के दुश्मन हैं। ज्यादा से ज्यादा एकता पैदा कीजिए।

3- यह देश मेरा है। यह देश आपका है। यह देश हम सबका है। इसी भारत की मिट्टी में हमारे पूर्वज दफ्न हैं और इसी देश की गंगा ने हमारे पुरखों को सुकून दिया है। बात-बात पर तलवार-खंजर निकालना बंद कीजिए क्योंकि अगर इस धरती पर हमारा लहू गिरेगा तो पुरखों को बहुत तकलीफ होगी। दुनिया कहां से कहां चली गई और हम बहुत पीछे रह गए। अब भी वक्त है। सोचिए, समझिए और तरक्की की राह में आगे बढऩे का जुनून पैदा कीजिए।

4- इस साल हमें फसाद की बातें नहीं करनी हैं। इस साल हमें बिगाड़ की बातें नहीं करनी हैं। हम बनाव की बातें करेंगे। इस साल जहां-जहां चुनाव हैं वहां वोट की चोट से उन नेताओं की जमानतें जब्त करवा दीजिए जो धर्म और जाति की भावना भड़काते हैं। जिनके पास विकास का नजरिया नहीं, उन्हें वोट मत दीजिए।

5- अगर आप सरकारी कर्मचारी हैं तो आपके दफ्तर में आने वाले आमजन से अच्छा बर्ताव कीजिए। आपके भले बर्ताव से ही उनकी आधी समस्याएं दूर हो जाएंगी। खासतौर से वे मित्र जो पुलिस सेवा में हैं।

6- बेमतलब के शौक न पालें। शराब, सिगरेट, महंगे कपड़े और गर्लफ्रेंड रखने के शौक बंद कीजिए। बढ़ते खर्चों पर लगाम लगाइए।

7- जो कार से सफर करते हैं, अगर संभव हो तो इसका उपयोग कम से कम करें। पेट्रोल-डीजल बचाइए। इससे देश की मुद्रा बचेगी। सार्वजनिक परिवहन का उपयोग कीजिए और इन्हें साफ रखने में मदद कीजिए।

8- इस साल एक पौधा लगाएं।

9- अगर आप शिक्षक हैं तो मैं समझ सकता हूं कि आपको बच्चों के भविष्य की चिंता है लेकिन कृपया उनकी बेरहमी से पिटाई मत कीजिए, क्योंकि इससे हादसा भी हो सकता है।

10- खाना जूठा छोडऩे की आदत बदलिए और पानी-बिजली का दुरुपयोग रोकिए। अगर आप कैंटीन या किसी सार्वजनिक स्थान पर खाना खा रहे हैं तो ज्यादा देर तक बैठे न रहें, दूसरे लोगों की सुविधा का ध्यान रखें, क्योंकि वे भी इंतजार कर रहे हैं। जाते वक्त अपनी टेबल खुद साफ कर जाएं। दूसरों के लिए वैसी टेबल न छोड़ें जैसी आप खुद के लिए पसंद नहीं करते।

11- इस साल जिनकी शादी होने वाली है मेरी ओर से उन्हें अग्रिम शुभकामनाएं। मैं चाहूंगा कि आप शादी में भारी खर्चों से बचें। बहुत बड़ी दावत न दें और न ही दहेज लें। जो जरूरी चीजें घर में चाहिए दोनों पक्ष उनका खर्चा आधा-आधा बांट लें।

12- इस साल अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखिए क्योंकि जब तक आप सेहतमंद नहीं होंगे, अपने वायदे नहीं निभा सकेंगे।

13- मुझे आपकी फिक्र है, खासतौर से तब जब आप सफर कर रहे होते हैं। मैं भयंकर सड़क दुर्घटना का शिकार हो चुका हूं, इसलिए नए साल में चाहता हूं कि वाहन तेज गति से न चलाएं, यातायात नियमों का पालन करें, बाइक चलाते समय हैलमेट जरूर पहनें, संभव हो तो साइकिल का उपयोग करें।

14- इस साल ब्याज का लोभ छोड़ें। माना कि आप और मैं बैंकिंग सिस्टम को नहीं बदल सकते और बैंक ब्याज के रिवाज से चलते हैं तो उन्हें चलने दीजिए लेकिन आपसी लेनदेन में ब्याज लेना बंद करें।

15- कागज का उपयोग कम से कम करें। जहां जरूरत न हो, प्रिंट न लें। कागज बचाकर पर्यावरण बचाएं और ईपेपर को महत्व दें।

16- अगर आप शिक्षक हैं तो कोशिश कीजिए कि तय समय से आधा घंटा ज्यादा शिक्षण कार्य में लगाएं। अगर आप डॉक्टर हैं तो आधा घंटा मरीजों को ज्यादा दें, अगर ऐसा संभव हो। अगर आप झाड़ू लगाते हैं तो अपने काम को कम मत समझिए। कोशिश कीजिए कि आधा घंटा ज्यादा सफाई करें। आप जिस क्षेत्र से जुड़े हैं उसके महत्व को कम न आंकें। नए साल में सब कोशिश करें कि हम आधा घंटा ज्यादा काम करेंगे। साथ ही कंपनियां भी इस बात को समझें। वे सहयोगी रवैया अपनाएं, लचीले नियम बनाएं और अक्खड़पन का गुरूर छोड़ें।

साथियों, नए साल में मुझे आपसे बस यही तोहफा चाहिए। उम्मीद है कि आप मुझे निराश नहीं करेंगे। हम अपने देश को सबसे ज्यादा मजबूत, खुशहाल और सुंदर देश बनाएंगे।

जय हिंद!!

- राजीव शर्मा, कोलसिया -

Like My Facebook Page


Comments

Popular posts from this blog

मारवाड़ी में पढ़िए पैगम्बर मुहम्मद साहब की जीवनी

आखिरी हज में पैगम्बर मुहम्मद साहब (सल्ल.) ने पूरी दुनिया के नाम दिया था यह पैगाम

नई सुबह का उजालाः पढ़िए मेरी पहली कहानी